12-Nov-2019

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

Cooking oils in diabetes is better than homemade ghee

Previous
Next
डायबिटीज में कुकिंग ऑयल से बेहतर होता है देसी घी में खाना बनाना

डायबिटीज रोगियों के लिए खान-पान एक बड़ी समस्या होती है। वह हमेशा इसी उधेड़बुन में होते हैं कि डायबिटीज में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं! खान-पान के बहुत से रेस्ट्रिक्शन्स तो सिर्फ अफवाह भर होते हैं। जैसे- बहुत से लोगों का मानना है कि डायबिटीज के रोगियों को घी नहीं खाना चाहिए। इसमें उच्च वसा होने की वजह से यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ा देता है। साथ ही यह मोटापा बढ़ाने के साथ-साथ डायबिटीज को और बदतर बना देता है। लेकिन यह सब सही नहीं है। आइए जानते हैं कि सच्चाई क्या है –

कुकिंग ऑयल से बेहतर होता है घी
डायबिटीज में शरीर के कुछ अंग सही तरीके से काम नहीं करते। इसमें पाचक अंग भी शामिल हैं। कुकिंग ऑयल में फैटी एसिड्स की लंबी श्रृंखला होती है। इसे पचाना बेहद मुश्किल होता है। इन्हें पचाने के लिए ज्यादा मात्रा में एंजाइम्स ब्रेक होने की जरूरत होती है। ऐसे में डायबिटीज के रोगियों के लिए यह काफी नुकसानदेह होता है। विशेषज्ञों की मानें तो प्राकृतिक वसा से भरपूर फूड्स जैसे – घी, नट्स, दही, अंडे आदि डायबिटीज के रोगियों के लिए बेहतर होते हैं। यह आसानी से पच भी जाते हैं। इसलिए डायबिटीज के रोगियों के लिए कुकिंग ऑयल की जगह घी में खाना पकाना ज्यादा सेहतमंद होता है।

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित करता है घी
डायबिटीज में हाई कोलेस्ट्रॉल आम समस्या है। कोलेस्ट्रॉल की वजह से रक्त-वाहिनियों में कैल्शियम इकट्ठा हो जाता है, जिससे रक्त संचार प्रभावित होता है। जब आप अपनी डाइट में घी को शामिल करते हैं तो यह आपकी धमनियों को चिकना बनाता है। साथ ही साथ उनकी प्रत्यास्थता को दुरुस्त करता है। इससे रक्त प्रवाह आसान होता है। इस तरह से डायबिटीज में घी खाने से कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है।

कितना घी खाना सही है
घी खाना सेहत के लिए सही तो होता है लेकिन इसका इस्तेमाल संतुलित मात्रा में हो तो सही है। ज्यादा मात्रा में घी खाना नुकसानदेह भी हो सकता है। दाल और मांस के साथ घी का सेवन सबसे बेस्ट होता है। इसके अलावा हाई प्रोटीन फूड्स के साथ घी का सेवन भी काफी फायदेमंद होता है। दिन के हर भोजन के साथ एक चम्मच घी की मात्रा का सेवन पर्याप्त होता है।

साभार- जनसत्‍ता

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /srv/users/serverpilot/apps/rajkaaj/public/news/footer1.php on line 120
Total Visiter:0

Todays Visiter:0