16-Oct-2019

 राजकाज न्यूज़ अब आपके मोबाइल फोन पर भी.    डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें

राजधानी का बोट क्लब हुआ पाॅलीथीन मुक्त क्षेत्र घोषित

Previous
Next

निगम बेड़े में शामिल हुई 21 अल्टो कार

भोपाल, 18 सितम्बर 2019, पर्यावरण संरक्षण एवं स्वच्छता हेतु किए जा रहे नवाचारों के क्रम में निगम द्वारा एक और नवाचार राजधानी के ऐतिहासिक बड़ी झील के किनारे बोट क्लब क्षेत्र को पाॅलीथीन मुक्त क्षेत्र बनाकर किया है। बोट क्लब क्षेत्र में पाॅलीथीन का उपयोग पूर्णतः प्रतिबंधित करने तथा नागरिकों की सुविधा के दृष्टिगत बोट क्लब पर थैला सिलाई केन्द्र (बैग कियोस्क) की स्थापना भी की गई जहां से नागरिकों को नाम मात्र की धरोहर राशि 05 रुपये जमा कर कपड़े का थैला दिया जाएगा और नागरिक चाहे तो उसे वापिस कर उनके द्वारा दी गई राशि वापिस ले सकते है। बोट क्लब को पाॅलीथीन मुक्त क्षेत्र बनाने हेतु बुधवार को सांय बोट क्लब पर आयोजित कार्यक्रम में नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह, जनसंपर्क मंत्री श्री पी.सी.शर्मा ने महापौर श्री आलोक शर्मा की उपस्थिति में बैग सिलाई कियोस्क का शुभारंभ किया और निगम द्वारा जोनल अधिकारियों को आवंटित करने हेतु क्रय की गई 21 नई अल्टो कारों को भी झण्डी दिखाकर रवाना किया और स्वयं भी कार चलाई। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त श्री विजय दत्ता, नेता प्रतिपक्ष श्री मो.सगीर, जोन क्र. 05 के अध्यक्ष श्री रफीक कुरैशी, पार्षद श्रीमती शबिस्ता जकी, श्री अमित शर्मा, पूर्व पार्षद श्री ईश्वर सिंह चैहान, श्री महेश मालवीय के अलावा नगर निगम एवं जिला प्रशासन के अधिकारी मौजूद थे। मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने स्वच्छता की शपथ भी दिलाई। कार्यक्रम के दौरान मंत्रीद्वय श्री जयवर्द्धन सिंह, श्री पी.सी. शर्मा एवं महापौर ने थैला प्लास्टिक से मुक्ति हेतु कपड़े के थैले के उपयोग हेतु प्रेरित करने एवं निःशुल्क थैले उपलब्ध कराने पर लायन्स क्लब, महाशक्ति सेवा केन्द्र,  आकृति इको सिटी एवं सकारात्मक सोच संस्थानों को सम्मानित भी किया।
बोट क्लब पर आयोजित कार्यक्रम में मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने राजधानी भोपाल की ऐतिहासिक झील को प्रदूषण मुक्त बनाने एवं इस क्षेत्र को पाॅलीथीन मुक्त क्षेत्र बनाने के लिए नगर निगम भोपाल की सराहना की और कहा कि बोट क्लब को विदेशों की तर्ज पर विकसित करने हेतु योजना बनाई जाए तथा पर्यटकों को और बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए। श्री जयवर्द्धन सिंह ने कैरी-याॅर-आॅन बैग/बाॅटल अभियान को भी अनुकरणीय पहल निरूपित करते हुए कहा कि शहर के अन्य क्षेत्रों को भी पाॅलीथीन मुक्त बनाने के लिए आईसक्रीम में रेपर सहित अन्य उत्पादों के सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्ति के उपाय भी करने होंगे। श्री सिंह ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण एवं स्वच्छता हेतु भोपाल नगर निगम लगातार नवाचार कर रही है और शहर को स्वच्छता मंे नंबर 01 बनाने की ओर अग्रसर है। श्री सिंह ने कहा कि स्वच्छता अभियान की तरह ही शहरों को आवारा पशुओं से मुक्त शहर बनाने के प्रयास किए जाने चाहिए जिससे स्वच्छ सर्वेक्षण में और अधिक मार्किंग हो सके। नगरीय विकास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने नागरिकों का भी आव्हान किया कि वह प्लास्टिक पाॅलीथीन के उपयोग को त्यागे और कपड़े के थैले आदि का उपयोग करें। श्री सिंह ने कहा कि सभी वार्ड क्षेत्रों में स्व सहायता समूहों के माध्यम से कपड़े के थैले बनवाने चाहिए ताकि प्लास्टिक से मुक्ति मिले और महिलाओं को रोजगार भी मिल सके।
इस मौके पर जनसंपर्क मंत्री श्री पी.सी.शर्मा ने भोपाल नगर निगम की पहल की सराहना करते हुए कहा कि इस तरह के अभियान निरंतर जारी रहना चाहिए और भोपाल शहर को सबसे स्वच्छ शहर और पाॅलीथीन मुक्त शहर बनाने हेतु हम सब साथ है। श्री शर्मा ने कहा कि पाॅलीथीन मुक्त बनाने के लिए प्लास्टिक/पाॅलीथीन में पैक वस्तुओं को क्रय करने से बचना चाहिए और कागज आदि में पैक वस्तुएं ही क्रय करें ताकि पाॅलीथीन उपयोग में ही न आ सके। श्री पी.सी.शर्मा ने पुराने कपड़े एकत्र कर थैले बनाकर देने की योजना में नागरिकों के सहयोग का आव्हान भी किया। 
इस मौके पर महापौर श्री आलोक शर्मा ने कहा कि भोपाल को प्रकृति ने निराली सुंदरता प्रदान की है। श्री शर्मा ने कहा कि नगर सरकार शहर की सुंदरता, झीलों, तालाबों के संरक्षण हेतु संकल्पित है और इसके लिए नियमित रूप से प्रयास किए जा रहे है। महापौर श्री शर्मा ने कहा कि राजधानी के ऐतिहासिक बोट क्लब को नो प्लास्टिक जोन घोषित किया गया है। इससे निश्चित ही प्रदूषण को नियंत्रित किया जा सकेगा साथ ही इस क्षेत्र में स्वच्छता बनी रहेगी। श्री शर्मा ने प्लास्टिक के उपयोग को मानव एवं पशुओं के लिए अत्यन्त हानिकारक बताते हुए पूरे शहर में स्वच्छता एवं पाॅलीथीन मुक्ति हेतु बाजारों एवं रहवासी क्षेत्रों में अभियान चलाए जाने और शहर के अनेक स्थानों पर ईको फ्रेंडली कपड़े का थैला बैंक स्थापित करने की बात भी कही और नागरिकों से अपील की कि वह प्लास्टिक के उपयोग की आदत को त्यागे और निगम के कैरी-याॅर-आॅन बैग/बाॅटल अभियान में शामिल होकर अपने शहर को प्लास्टिक पाॅलीथीन से मुक्ति दिलाए।
कार्यक्रम में नेता प्रतिपक्ष श्री मो.सगीर ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि लोग डल झील को खूबसूरत कहते है और यह विश्व में भी प्रसिद्ध है लेकिन हमारे शहर का बड़ा तालाब डल झील से ज्यादा सुंदर भी है और इसका पानी पीने के उपयोग में भी लिया जाता है।
कार्यक्रम के प्रारंभ में निगम आयुक्त श्री विजय दत्ता ने निगम के कैरी-याॅर-आॅन बैग/ बाटल अभियान के तहत बोट क्लब पर बनाए गए कियोस्क के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि यहां से नागरिक 05 रुपये में थैला प्राप्त कर सकते है साथ ही यदि कोई नागरिक पुराने कपड़े लेकर आएगा तो उसे नया ईको फ्रेंडली थैला फ्री में दिया जाएगा। श्री दत्ता ने कहा कि बोट क्लब क्षेत्र को अभी पाॅलीथीन मुक्त क्षेत्र बनाया है। एक माह तक लोगों को प्लास्टिक का उपयोग न करने की समझाइश दी जाएगी और इसके उपरांत इस क्षेत्र को प्लास्टिक फ्री क्षेत्र बनाया जाएगा।  
इससे पहले नगरीय विकास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह, जनसंपर्क मंत्री श्री पी.सी.शर्मा, महापौर श्री आलोक शर्मा ने कपड़े के थैले हेतु बनाए गए कियोस्क का शुभारंभ किया और उसका अवलोकन भी किया तथा निगम के वाहन बेड़े में सम्मिलित अल्टो वाहनों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया एवं मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने जनसंपर्क मंत्री श्री पी.सी.शर्मा एवं महापौर श्री आलोक शर्मा को बैठाकर स्वयं कार भी चलाई। 

Previous
Next

© 2015 Rajkaaj News, All Rights Reserved || Developed by Workholics Info Corp


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /srv/users/serverpilot/apps/rajkaaj/public/news/footer1.php on line 120
Total Visiter:0

Todays Visiter:0